मॉल में खरीदारी के समय दो लड़कियों के टकराने पर खुली मीडिया की पोल

🚩#मॉल में खरीदारी के समय दो लड़कियों के टकराने पर खुली मीडिया की पोल…
💥देखिये वीडियो🖥https://youtube.com/watch?v=4AdA_Wm9xbA
💥जी हाँ..!!! मॉल में खरीदारी के समय एक #छोटी बच्ची एक #लड़की से टकरा गई । उस लड़की ने उस बच्ची का  अपमान करना शुरू किया तो बच्ची की बड़ी बहन से देखा न गया जिसके कारण #बड़ी बहन और सामने वाली लड़की का आपस में टकराव पैदा हो गया और पूरा मॉल उन दोनों #लड़कियों को देखने लगा…
💥आइये जाने कि कहाँ से इस टकराव की शुरुवात हुई…
💥छोटी बच्ची जब सामने वाली लड़की से टकराई तो उसके हाथ से #संत #आसारामजी बापू का साहित्य था जो टकराने से जमीन पर गिर जाता है । जिसे देखकर सामने वाली लड़की बोल उठती है कि क्या #अंश्रद्धा है…???
🚩छोटी बच्ची की बड़ी बहन – तुमने अपने पिता को कैसे माना…???
💥लड़की- माँ ने कहा, इसलिए ।
बड़ी बहन – ये भी तो माँ पर #श्रद्धा या विश्वास है। तो जिनके मार्गदर्शन से हमारा जीवन उन्नत हुआ उनको मानना क्या अंधश्रद्धा है..???
अंधे तो तुम्हारे जैसे लोग हैं जो सच को जाने बगैर ही झूठ को सच और सच को #झूठ मान लेते हैं ।
💥लड़की – #मीडिया में इतना सब कुछ दिखाया जा रहा है वो सब झूठ है क्या..???
🚩बड़ी बहन –  मीडिया सिर्फ एक तरफ दिखाता है दूसरी तरफ की सच्चाई क्यों नहीं दिखाता..???
इतने कुप्रचार के बाबजूद आज भी करोड़ों महिला Followers क्यों हैं..???
💥लड़की – लेकिन आरोप भी तो एक लड़की ने लगाया है और तुम एक लड़की होकर उनका समर्थन करती हो..???
🚩बड़ी बहन – #मेडिकल #रिपोर्ट के अनुसार लड़की के शरीर पर एक भी खरोंच नहीं है। फिर रेप की #Baseless खबर आखिर उछाली क्यों गई..???
💥लड़की जिस समय की घटना बता रही है। उस समय वो खुद फोन पर बात कर रही थी और बापूजी एक #फंक्शन में व्यस्त थे। क्या ये बात तुम जानती हो..???
#बर्थ #सर्टिफिकेट के आधार पर लड़की बालिग है फिर पोक्सो की धारा क्यों लगाई गयी..???
क्या तुमने इसके बारे में कभी सोचा..???
💥लड़की – मीडिया में इतना सब कुछ दिखाया जा रहा है, कुछ #सच्चाई तो होगी ही न ।
🚩बड़ी बहन –  #मैडम, जिन मिडिया वालों पर तुम विश्वास करती हो उनमें से #maximum मीडिया हाउस तो #फॉरेन #Funded हैं।
#अश्लील #विज्ञापन , #ब्लैकमेलिंग , आदि के जरिये समाज में #भ्रष्टाचार, #रेप आदि को बढ़ावा दे रहे हैं ।
ऐसे #चैनेल्स पर तुम विश्वास करती हो ।
पर #भारतीय #संस्कृति की निस्वार्थ सेवा करने वाले संतों पर तुम्हें विश्वास नहीं है।
क्या #बुद्धि है तुम्हारी…!!!
#हिन्दू धर्म वाले जब सताए जाते हैं तब तो मिडिया मौन हो जाती है। और कहीं दूसरा धर्म हो तो जनता के सामने #Secularism का विधवा विलाप करती है ।
💥लड़की – पर कुछ तो दोष होगा तुम्हारे बापू का..???
🚩बड़ी बहन –  #दोष तो है। क्योंकि #बापूजी एक हिन्दू संत हैं। उन्होंने लाखों लोगों को धर्मान्तरित होने से बचाया है । सत्संग के द्वारा देश , #समाज , #संस्कृति को नोचने – तोड़ने वाली ताकतों से देशवासियों को बचाने का प्रयत्न किया। क्या यही उनका #दोष है..???
💥लड़की – पर हमने तो सुना है कि #करोड़ों की संपत्ति है तुम्हारे बापू के पास । इसमें तुम्हारा क्या कहना है..???
🚩बड़ी बहन – जो भी #संपत्ति है सब #ट्रस्ट की है बापू की व्यक्तिगत नहीं है और इसके द्वारा #समाज उत्थान के कई सेवाकार्य चलाये जाते हैं ।
💥लड़की – तो क्या सेवा की है तुम्हारे #बापू ने..???
समाज के लिए..!!!
🚩बड़ी बहन – आश्रम द्वारा देश भर में कई सेवाकार्य चलाये जाते हैं ।
जैसे – ‘#भजन करो – #भोजन करो और दक्षिणा पाओ’ , #गरीब लोगों में #राशन कार्ड के द्वारा अनाज का वितरण , कपड़े , बर्तन , जीवन उपयोगी सामग्री और #मकान आदि का वितरण किया जाता है । #प्राकृतिक आपदाओं में जहाँ शासन भी न पहुँच सका । वहां कई #सेवाकार्य चलाये जाते हैं ।
क्या #मिडिया ने दिखाया..???
क्या तुम जानती हो पूज्य बापूजी ने महिला सुरक्षा के कई #अभियान चलाये। आज की युवा पीढ़ी को माता – पिता का आदर सम्मान सिखाकर #वैलेंटाइन डे के बदले में #मातृ – पितृ पूजन दिवस मनाना सिखाया।
25 दिसम्बर को #संस्कृति की रक्षा के लिए तुलसी पूजन दिवस #अभियान की शुरुआत किसने की..???
क्या तुम जानती हो..???
केमिकल रंगों से बचाकर #प्राकृतिक #रंगों से होली खेलने की पहल किसने की..???
जानती हो वो कौन हैं…
!!…संत श्री आशाराम जी बापू…!!
#हजारों #गायों को #काटने से बचाया कई #गौशालाओं की व्यवस्था की।
#व्यसन मुक्ति अभियान चलाकर करोड़ों लोगों को #व्यसन मुक्त कराया।
बच्चों , #युवाओं व #महिलाओं में अच्छे संस्कार के लिए ढेरों अभियान चलाये।
#World Religious Parliament Chicago #अमेरिका में 1993 में #हिन्दू धर्म का प्रतिनिधित्व किसने किया था जानती हो वो कौन हैं..???
!!…संत श्री #आशाराम जी बापू…!!
अरे ! मिडिया देश का इतना ही भला चाहता और सच दिखाता तो उनके इतने वर्षों के सेवाकार्य को आज तक क्यों नहीं दिखाया..???
सच दिखाना होता तो एक #लड़की एक #महिला का ढोल नहीं पीटती ।
हम जैसी करोड़ो नारियों की गवाही को जनमानस तक पहुंचाती ।
हमेशा झूठ को सच और सच को झूठ दिखाकर जनता को गुमराह क्यों कर रही है।
सिर्फ #बापूजी ही नहीं इससे पहले कई महापुरुषों पर झूठे आरोप लगाकर समाज द्रोहियों ने उनका खूब #दुष्प्रचार किया क्या वे महापुरुष झूठे हो गए..???
नहीं…आज भी उनका उतना ही सम्मान हो रहा है। इतना होने के बाबजूद भी ।
“करोड़ों #Educated लोग बापूजी से जुड़े हुए हैं। क्योंकि उन्हें बापूजी से जो मिला है उसे झुठलाया नहीं जा सकता। “
मैं अपने बापूजी को अपना भगवान मानती थी , मानती हूँ और मानती रहूंगी। ” मुझे तुम्हारे जैसे लोगों के #सर्टिफिकेट की जरुरत नहीं है।”
ये तो आश्चर्य है कि कई #गुनहगार लोगों को बेल मिल जाती है। यहाँ तक कि दोषी तक छूट जाते हैं। और वहीँ दूसरी ओर एक आरोप भी सिद्ध न होने पर उनके #लड़खड़ाते #स्वास्थ्य के बाबजूद बेल तक नहीं दी जा रही है।
क्या तुम्हे लगता है कि इतने लोगों के प्रेरणास्त्रोत संत श्री आशाराम जी बापू ऐसा गलत काम कर सकते हैं..???
क्या तुम्हे लगता है कि मिडिया सब सच दिखाता है…???
💥लड़की –  #Yes , if we are talking about the media then we all knows that कि मिडिया अपनी #TRP बढ़ाने के लिए किसी भी हद तक जाती है। अपनी TRP बढ़ाने के लिए वह किसी भी बात को बहुत बढा – चढ़ाकर और #मसाला लगाकर बताती है। पर इस बार तो इन्होंने हद ही कर दी #निर्दोष बापूजी को भी नहीं छोड़ा ।
                 Anyway Thnx अगर तुम मुझे नहीं बताती तो मुझे कभी पता ही नहीं चलता कि बापूजी ने समाज में इतने सारे #सेवाकार्य कराये हैं ।
💥तो देखा आपने…मीडिया कैसे समाज को गुमराह कर रही है ।
💥वो लड़की तो समझ गई…आप कब समझेंगे..???
कि हमारे #हिंदुस्तान में हमारे निर्दोष संत  ही आज सबसे ज्यादा पीड़ित है ।
🚩जागो हिन्दू🚩
🚩Official Jago hindustani  Visit
👇👇👇👇👇
💥WordPress – https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot –  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s