सत्य परेशान हो सकता है मगर पराजित कभी नहीं

🚩सत्यमेव जयते…!!!
🚩सत्य परेशान हो सकता है मगर पराजित कभी नहीं…!!!
💥कुछ ऐसे ही भाव झलक रहे थे संत श्री #आसारामजी बापू के उन #244 साधकों के चेहरे पर…!!!
💥जिन्होने #संदेश #न्यूज़ पेपर में #2009 में अपने सद्गुरुदेव के बारे में प्रकाशित किये गये आपत्तिजनक चित्र व #समाचार का विरोध करते हुए दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने हेतु #गांधीनगर #कलेक्टर को #ज्ञापन देने हेतु शांतिपूर्ण तरीके से #लाखों #साधको ने रैली निकाली थी ।
💥रैली के अंतिम चरण में कुछ घुसे #असामाजिक तत्वों ने पुलिस पर हमला करके #साधकों व पुलिस के बीच में टकराव की परिस्थिति पैदा कर दी थी ।
💥परिणामस्वरुप पुलिस ने #साधकों पर #लाठी चार्ज किया और अश्रु गैस के गोले छोड़े ।
💥#244 साधकों को आई.पी.सी कलम 143, 147, 148, 149, 332, 333, 307, 337, 338, 120 (बी), 427, 403, 186, 188, बी.पी.एक्ट कलम 135 तथा डेमेज टू पब्लिक प्रोपर्टी एक्ट की कलम 3, 7 के तहत गिरफ्तार किया गया था ।
💥निर्दोष #साधकों में #बच्चे, #महिलायें व #वयोवृद्ध #साधक भी शामिल थे ।  इन लोगों को कई दिनों तक जेल में रहना पड़ा तथा #पुलिस #रिमान्ड के दौरान एवं #जेल में #खूब #शारीरिक , #मानसिक यातनाएँ सहन करनी पड़ी ।
💥और #आश्रम में छापा भी मारा था और 500 #आश्रमवासियों को बुरी तरह पीटकर #3 दिन #जेल में रखा था ।
💥लेकिन  11 अप्रैल 2015 को जब 6 साल बाद 122 गवाहों के ब्यानों व पुलिस की छानबीन तथा लंबी जिरह के बावजूद भी इन #साधकों पर किसी तरह का #आरोप सिद्ध नही हो सका तो #कोर्ट ने 244 साधको को #बाइज़्ज़त बरी किया ।
💥यह सर्व-विदित था चाहे #पुलिस हो चाहे #मीडिया या कोई राजनेता हर कोई भीतर से यह सच्चाई जानता था कि साधक निर्दोष है ।
💥फिर भी #टी.आर.पी और #पैसे की भूखी मीडिया ने घटना को बढ़ा-चढ़ा कर एवं विकृत करके बापू के #गुंडे करके दिन रात खूब दिखाया ।
मीडिया के #दबाव में आकर #पुलिस 💥ने भी ज़्यादती की और राजनेताओं ने अपनी अपनी रोटियाँ सेंकी ।
💥क्या पुलिस को किसी #मुसलमानों की #मस्जिद या #ईसाई के #चर्च में उनके #अनुयायियों को बुरी तरह पीटने की #हिम्मत है जो #हिन्दू #संतो के #आश्रम में घुसकर #शिष्यों की पिटाई करती है ।
💥जो पीड़ा #अपमान और #समाज में तिरस्कार इन निर्दोष लोगों को सहना पड़ा, उसकी भरपाई कौन करेगा…???
💥कौन इनके आसुओं का बदला चुका पायेगा…???
💥आज TRP की भूखी मीडिया जिसने उस समय भरसक कुप्रचार किया था इन #निर्दोष लोगों का…
💥आज वो कहाँ सो रही है…??? जब ये सब #निर्दोष छूट कर आये है
अब क्यों 1 मिनट की भी न्यूज़ नही दिखाती..???
💥क्या मीडिया को #अधिकार है #न्यायालय से बिना अपराध सिद्ध हुए किसी को भी दोषी कहने का..???
💥जिन शरीफ लोगों की #इज़्ज़त की #धज्जियाँ उड़ा कर रख दी थी मीडिया ने समाज में…
क्या मीडिया अब इन निर्दोष छूटे लोगों से माफ़ी माँगेगी…???
#ShameOnMedia420
🚩Official Jago hindustani Visit
👇👇👇👇👇
💥WordPress – https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot –  http://goo.gl/1L9tH1
🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩
Advertisements

One thought on “सत्य परेशान हो सकता है मगर पराजित कभी नहीं

  1. paid media and corrupt police are eating away the country’s fabric of unity its cultuure and misleading people to fight against each other. It has become a tool of politicians and anti nationals.

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s