NGOs Conspiracy Against Indian Culture

🚩🚩🚩जागो हिन्दुस्तानी🚩🚩🚩

jagohindustani

💥विदेशी NGOs के माध्यम से मीडिया  भारतीय संस्कृति को नष्ट-भ्रष्ट करने का काम कर रही है भारत के संतो को बदनाम करके उनके खिलाफ षड़यंत्र रच के उनको फंसाने का काम कर रही है ।
💥संत आशारामजी बापू के ऊपर साजिश सिर्फ इसीलिए रची गयी क्योंकि  वो भारत की संस्कृति को बचाने के लिए विदेशी NGOs और मीडिया से लोहा ले रहे है थे ।

⛳बापूजी सभी संतो के साथ मिलकर संस्कृति की रक्षा का कार्य कर रहे हैं । शंकराचार्य जी के लिए रोड़ पर धरना देने के लिए गए थे ।

💥इनको देखकर कांग्रेस सरकार हिल गयी  थी इनके कोई भी कुचक्र सफल नहीं हो रहे थे ।

💥 ऐसे में उन्होंने एक बहुत बड़ी साजिश रची और पैसे के बल पर लड़की के माता -पिता को गवाह बनाया गया ।

🔥आतंकवाद को संरक्षण देने वाले संजय दत्त को जमानत मिल जाती है उसके लिए कानून बदल जाता है।सलमान खान के नाम पर कानून बदल जाता है जिला कोर्ट उनको सजा सुनाता है और 1घंटा के भीतर हाई कोर्ट उनको माफ़ कर देता है लेकिन  बापूजी को दो सालो से बेल नहीं दी जा रही है । यह कौन सा कानून किस देश कि कानून की बात करते हैं?

🚩यह तो बापूजी का धन्यवाद मानिये की बापूजी ने विश्वशांति का पाठ पढाया है कभी कोई गलत काम करने के लिए मना करते हैं और बताया भी है की उपद्रवी है तो वह मेरा शिष्य नहीं है ।

⛳जिस दिन करोड़ दो करोड़ साधक एकत्रित हो गए आगे जो होगा उसके लिए  – प्रशासन जिम्मेदार रहेगा ।
🚩बापूजी को जमानत मिलनी चाहिए । बापूजी निर्दोष है 5 करोड़ शिष्य इसके गवाह है ।
🌹-पहलवान​ राकेश
💥देखिये वीडियो👇


🚩Official Jago hindustani
Visit
👇👇👇
💥Youtube – https://goo.gl/J1kJCp
💥WordPress – https://goo.gl/NAZMBS
💥Blogspot –  http://goo.gl/1L9tH1
💥Twitter – https://goo.gl/iGvUR0
💥FB page – https://goo.gl/02OW8R

🚩 🚩 जागो हिन्दुस्तानी 🚩 🚩

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s